March 5, 2024

बीकानेर। दवाई थोक विक्रेता के साथ 10 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। इस संबंध में परिवादी ने एसपी को परिवादी दिया। एसपी कार्यालय के आदेश पर कोटगेट पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है। मुकदमें में तीन लोगों नामजद है। पुलिस के अनुसार परिवादी विनय मित्तल है। जिसने रिपोर्ट में बताया कि वह मित्तल फार्मा, मोर्डन मार्केट का प्रोपराइटर है तथा फर्म मित्तल फार्म दवाईयों के थोक विक्रय का कार्य करती है। अभियुक्त शीनू रस्तोगी दिल्ली, रूचि रस्तोगी प्रोपराइटर व प्रबंधक नीरज रस्तोगी फार्मा इनकॉरपोरेशन देहरादून ने उसको दवाई बाजार से कम भाव में उपलब्ध करवाने का झांसा देकर बईमानीपूर्वक आशय से उसे धोखा देने की नीयत से फर्जी एवं कूटरचित जीएसटी के बिल बनाकर उसके द्वारा अदा किये गये 10 लाख रुपए को हड़प लिये। परिवादी की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की।