May 28, 2024

(जीएनएस)23 दिसंबर, भोपाल। राजधानी में छात्रा से गैंग रैप मामले में विशेष कोर्ट ने आज आरोपियों को सजा सुनाई जा रही है। यह फैसला 36 दिनों में आया है। इससे पहले लगभग 12 बजे विशेष जज सुनीता दुबे ने फैसले को लेकर डिक्टेशन देना शुरू किया। आरोपियों को कड़ी सजा एवं जुर्माना की सजा का फैसला सुनाया गया। इससे पूर्व जेल से चारों आरोपियों को कड़ी सुरक्षा के बीच लाया गया।
राजधानी में पीएससी की छात्रा के साथ हुए गैंगरेप मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में रेल एसपी से हटार्इं गर्इं आईपीएस अनीता मालवीय की शिकायत पर रेल एडीजी जीपी सिंह आज राज्य महिला आयोग में पेश होंगे। अनीता की शिकायत पर महिला आयोग अधिनियम 1995 की धारा 10 (झ) के तहत प्ररकण दर्ज किया गया है। इस संबंध में आयोग की ओर से रेल एडीजी को तालीम भेजी जा चुकी है। महिला आयोग ने रेल एडीजी जीपी सिंह के अलावा एक न्यूज बेवसाइट के खिलाफ भी शिकायत की है। भोपाल गैंगरेप प्रकरण के दौरान ने इसी बेवसाइट ने तत्कालीन रेल एसपी का मुस्काराता हुआ चेहरा गैंगरेप पीडि़ता की फरियाद नहीं सुनने से जोडक़र प्रकाशित किया था।
आयोग को शिकायत में अनीता मालवीय ने बताया कि वे इससे आहत हुर्इं। राज्य सरकार ने मालवीय की लापरवाही मानते हुए उनका तबादला कर दिया था। इसके बाद मालवीय ने आरोप लगाया कि वे वरिष्ठ अफसरों की साजिश की शिकार हुई हैं। उन्होंने रेल एडीजी एवं अन्य के खिलाफ राज्य महिला आयोग में प्रताडऩा की शिकायत की। शिकायत की जांच के बाद आयोग ने एडीजी जीपी सिंह को नोटिस जारी किया है। शनिवार दोपहर 12 बजे आयोग की अध्यक्ष लता वानखेड़े की अध्यक्षता में लगने वाली बैंच में एडीजी को अपना पक्ष रखने के लिए बुलाया।