February 26, 2024

इस साल आईआईटी मद्रास के प्लेसमेंट ड्राइव में ऐपल और यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) जैसी कंपनी पहली बार भाग लेने के लिए कैंपस आ रही है। आईआईटी मद्रास में प्लेसमेंट की प्रक्रिया 1 दिसंबर से शुरू होगी। आईआईटी-मद्रास में प्लेसमेंट ड्राइव के लिए जितनी कंपनियां रजिस्टर्ड हैं, उनमें से करीब 15 फीसदी कंपनियां पहली बार इसमें हिस्सा लेंगी।
पहली बार प्लेसमेंट ड्राइव में भाग लेने वाली कंपनियों में यूबीएस एजी, नैसडैक स्टॉक मार्केट, अल्वारेज ऐंड मारसल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, कंट्री गार्डन, हैलमा इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, रुबरिक ऐंड सेकीसुई केमिकल शामिल हैं। प्लेसमेंट में परंपरागत रूप से हिस्सा लेने वाली कंपनियां जैसे माइक्रोसॉफ्ट, सैमसंग आर ऐंड डी, गोल्डमन सैचिस, ईटन, शलमबरजे, महिंद्रा, इंटेल, बजाज, ईएक्सएल, सिटी, लार्सन ऐंड टूब्रो भी भर्ती अभियान में शामिल होंगी।

270 कंपनियां अब तक रजिस्टर्ड
इस साल कैंपस प्लेसमेंट के लिए इंस्टिट्यूट में आने वाली कंपनियों की संख्या में बड़ी उछाल आई है। पिछले साल 400 जॉब प्रोफाइल के लिए 250 कंपनियों ने रजिस्ट्रेशन करवाया था जबकि इस साल कुल 270 कंपनियां अब तक रजिस्टर्ड हैं। इन कंपनियों में से करीब 43 फीसदी कोर इंजिनियरिंग/आर ऐंड डी सेक्टर, 25 फीसदी फाइनैंस/ऐनालिटिक्स/कंसल्टिंग सेक्टर्स और 32 फीसदी आईटी सेक्टर से है। इस साल 50 से ज्यादा स्टार्टअप्स भी हिस्सा लेंगी। इस साल संस्थान में ज्यादा से ज्यादा जॉब ऑफर मिलने की उम्मीद है।
56 फीसदी बढ़ी प्री-प्लेसमेंट ऑफर्स
साथ ही इस बार प्री-प्लेसमेंट ऑफर्स में भी 56 फीसदी बढ़ोतरी दर्ज की गई है। इस साल अब तक आईआईटी मद्रास के छात्रों को 114 प्री-प्लेसमेंट ऑफर्स मिल चुके हैं जबकि पिछले साल 73 पीपीओ ही मिले थे। आईआईटी मद्रास में ट्रेनिंग और प्लेसमेंट के सलाहकार मनु संतानम ने बताया, छात्रों और स्टाफ की हमारी टीम ने कैंपस तक रिक्रूटर्स को बड़ी संख्या में आकर्षित करने के लिए कड़ी मेहनत की है और इस प्लेसमेंट सीजन से काफी उम्मीदें हैं। हमारे यहां पीपीओ में बड़ी उछाल आई है और इसे देखते हुए हम उम्मीद करते हैं कि यह सफलता प्लेसमेंट में भी परिवर्तित होगी। इधर, आईआईटी मद्रास में स्टार्ट अप का क्रेज बढ़ता जा रहा है। अब तक यहां से 140 स्टार्ट अप निकल चुके हैं।
अब तक 1100 विद्यार्थियों ने प्लेसमेंट के लिए रजिस्ट्रेशन कराए
मद्रास आईआईटी में इस साल अब तक 1100 विद्यार्थियों ने प्लेसमेंट के लिए रजिस्ट्रेशन करा लिया है। संस्थान को भरोसा है कि इस संख्या में अभी और वृद्धि होगी क्योंकि रिसर्च के कई ऐसे छात्र हैं जिन्होंने अपना शोध पूरा कर लिया है। ये छात्र शोध में अपनी उपलब्धि हासिल कर अब रोजगार के लिए तैयार हो रहे हैं। संस्थान के मुताबिक 35 विद्यार्थियों ने प्लेसमेंट में अपना रजिस्ट्रेशन नहीं कराने का फैसला लिया है। ये विद्यार्थी या तो स्टार्ट अप की शुरुआत करेंगे या आगे उच्च शिक्षा के लिए आवेदन करेंगे।