April 23, 2024

रात को बरामदे में सो रही लड़की को किडनैप कर गैंगरेप, खेत में 4 लड़कों ने की वारदात; वीडियो भी बनाए, बेहोश छोड़ भागे

खैरथल (खैरथल-तिजारा)। रात में बरामदे में सो रही 15 साल की लड़की को घर से उठाकर 4 लड़कों ने खेत में ले जाकर गैंगरेप किया। लड़की को बेहोशी छोड़कर दरिंदे फरार हो गए। लड़की को दूसरे दिन शाम को होश आया। परिजनों का कहना है कि खेत में लड़की अचेत मिली। मंगलवार को आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज किया गया। घटना खैरथल-तिजारा जिले के किशनगढ़ बास थाना इलाके की है।

किशनगढ़ बास थाने में पिता की की ओर से मंगलवार को रिपोर्ट दी गई। रिपोर्ट में पिता ने बताया- मेरी बेटी 28 मार्च की रात घर के बरामदे में चारपाई पर सोई थी। देर रात पड़ोस में रहने वाला एक युवक एक अन्य युवक के साथ आया। दूसरा युवक दूसरे गांव का रहने वाला है। दोनों बेटी की चारपाई के पास आए। उनमें से पड़ोसी युवक ने बेटी का मुंह हाथ से दबा लिया। इसके बाद दोनों ने उसे चारपाई से उठाया और पड़ोसी युवक के घर की छत पर ले गए।

वहां पहले से गांव के ही दो अन्य युवक मौजूद थे। चारों मिलकर मेरी बेटी को घर से 500 मीटर दूर खेत में फसल के बीच ले गए। वहां आरोपियों ने बेटी के साथ गैंगरेप किया। चारों ने रेप की वारदात की। आरोपियों ने बेटी के अश्लील वीडियो भी बनाए। बेटी जब बेहोश हो गई तो उसे खेत में ही छोड़कर चारों फरार हो गए।

दूसरे दिन 29 मार्च की सुबह बेटी को चारपाई पर न पाकर हमने उसकी तलाश शुरू की। पूरे गांव में उसे तलाशा। रिश्तेदारों से पूछा, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। शाम 5 बजे बेटी बदहवास हालत में खेत में मिली। बेटी को वहां से उठाकर घर लाए। इसके बाद उसने घटना के बारे में बताया।

मंगलवार को किशनगढ़ बास थाने पहुंचकर पीड़िता ने बताया कि चारों ने खेत में गैंगरेप किया और बेहोश छोड़कर भाग गए।

परिजनों का आरोप, पुलिस ने दर्ज नहीं किया केस

परिजनों का आरोप है कि वे घटना की जानकारी मिलने के बाद वे 30 मार्च को किशनगढ़ बास थाने पहुंचे लेकिन पुलिस ने उनकी सुनवाई नहीं की और गैंगरेप का मामला दर्ज नहीं किया। इसके बाद पीड़िता के पिता 1 अप्रैल को खैरथल जाकर एसपी मनीष कुमार से मिले। एसपी के निर्देश के बाद मंगलवार 2 अप्रैल को किशनगढ़ बास थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया। बताया जा रहा है कि आरोपी और पीड़िता आपस में दूर के रिश्तेदार हैं। थाना इंचार्ज जितेंद्र सिंह शेखावत ने बताया- मामले की जांच किशनगढ़ बास डीएसपी राजेंद्र सिंह कर रहे हैं।