February 25, 2024

जोधपुर सिलेंडर हादसे के बाद जागी सरकार, अब क्षमता से अधिक सिलेंडर रखे तो खैर नहीं…

जयपुर। राजस्थान में एलपीजी सिलेंडरों के अवैध खरीद बेचान व जोधपुर हाइसे जैसी घटना को रोकने को लेकर खाद्य मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बुधवार को बैठक ली। जिसमें खाचरियावास ने गैस गोदामों में क्षमता से अधिक सिलेंडर होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि गोदामों में भंडारण क्षमता से ज्यादा एलपीजी सिलेंडरों की सप्लाई ना हो। एलपीजी गैस गोदामों में सरकारी तेल कंपनियों द्वारा विस्फोटक विभाग से अनुमोदित भंडारण क्षमता से अत्यधिक गुना गैस सिलेंडर भेजे जाने के कारण बड़ी दुर्घटना उत्पन्न होने से रोकने को लेकर चर्चा की। सरकारी तेल कंपनियों के अधिकारियों की मौजूदगी में एलपीजी डिस्ट्रीब्यूटर्स फेडरेशन ऑफ राजस्थान के पदाधिकारियों की समस्याओं और सुझावों को सुनह। उन्होंने गैस कंपनी और एलपीजी एसोसिएशन को साथ मिलकर डंप सिलेंडर व गैस सिलेंडर्स की दलाली की समस्या का समधान करने की बात कही। खाचरियावास ने कहा कि उज्ज्वला योजना अच्छी है। लेकिन अभी इसमें कई सुधारों की दरकार है। 200 रुपये सब्सिडी के बावजूद राजस्थान में उज्ज्वला योजना के अंतर्गत लाखों लोग सिलेंडर नहीं ले रहे हैं। खाचरियावास ने कहा कि गैस गोदामों को और अधिक सुरक्षित बनाने, गैस सिलेंडर के अवैध भंडारण और अवैध क्रय-विक्रय को रोकने के लिए विभाग प्रयास कर रहा है और सरकार एलपीजी जोन बनाने के प्रस्ताव पर भी विचार कर रही है। उन्होंने एलपीजी सिलेंडर वितरकों से खुले में सिलेंडर नहीं रखने की अपील की। ताकि भविष्य में जोधपुर हादसे जैसी दुर्घटनाओं से बचा जा सके। बैठक में जयपुर कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहें।