February 26, 2024

तकनीक के विकास ने आज हमारे समक्ष एक ऐसे डिजिटल इकोसिस्टम का निर्माण किया है, जहां हमारे कई काम काफी आसानी से हो रहे हैं। आज दुनिया हमारी उंगलियों पर आ गई है। आज हम अपने स्मार्टफोन के जरिए कई सर्विस का लाभ उठा सकते हैं। वहीं इसी के समानांतर साइबर फ्रॉड का संसार भी काफी बड़ा हुआ है। बीते कुछ सालों में साइबर फ्रॉड से जुड़ी कई घटनाएं सामने निकलकर आई हैं। साइबर फ्रॉड से जुड़ी इन घटनाओं में लोगों को एक बड़े नुकसान का सामना करना पड़ा है। आज के समय कई स्कैमर्स लोगों को मोबाइल एप की मदद से टारगेट करने का काम कर रहे हैं। कई सिक्योरिटी चेक के बावजूद स्कैमर्स मैलवेयर या वायरस वाले एप्स को गूगल प्ले स्टोर पर लिस्ट करा दे रहे हैं। ऐसे में आपको हर पल सजग रहने की जरूरत है। आपकी जरा सी लापरवाही एक बड़े नुकसान की वजह बन सकती है। अगर आप इन एप्स को अपने स्मार्टफोन में इंस्टॉल कर रहे हैं। ऐसे में इस बात की बड़ी संभावना है कि ये एप्स आपके पर्सनल डाटा के साथ बैंकिंग से जुड़ी डिटेल्स को भी चोरी करने का काम कर रहे हैं। यूजर्स को इन एप्स से सावधान हो जाना चाहिए। कई बार यूजर्स इन एप्स को मैसेज की लिंक्स या किसी थर्ड पार्टी एप्स से इंस्टॉल कर लेते हैं। आज हम आपको उन पांच खतरनाक एप्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपके पर्सनल डाटा को चुरा सकते हैं।

ये हैं वो पांच खतरनाक एप्स
-Recover Audio, Images & Videos
-Zetter Authentication
-File Manager Small, Lite
-Codice Fiscale 2022
-My Finances Tracker

अगर आपने इन एप्स को अपने मोबाइल में इंस्टॉल कर रखा है। ऐसे में आपको इन्हें तुरंत डिलीट कर देना चाहिए। इसके अलावा आप अपने बैंकिंग से जुड़े सभी पिन और पासवर्ड को तुरंत बदल दें। आप जब भी अपने मोबाइल फोन में एप्लीकेशन को डाउनलोड करें। उस दौरान गूगल प्ले स्टोर डेवलपर रिव्यू और यूजर रिव्यू पर ध्यान जरूर दें।