May 28, 2024

राजकीयचिकित्सालय में सेवारत डॉक्टर मंगलवार को दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे। आयुष चिकित्सकों निजी चिकित्सकों ने कमान संभाली। चार निजी तीन आयुष चिकित्सकों ने 227 मरीजों की जांच की। सरकारी डॉक्टरों के हड़ताल पर रहने के कारण आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. योगेंद्र शर्मा, डॉ. रमाकांत शर्मा, होम्योपैथी चिकित्सक डॉ. शोभा निर्वाण ने सेवाएं दी। उन्होंने सुबह अस्पताल खुलते ही मरीजों की जांच शुरू कर दी।
इसके बाद चारभुजा हॉस्पिटल के डॉ. बीएल सोनगरा, राम हॉस्पिटल के डॉ. जेपी मिर्धा तथा शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. जेएस देवल ने मरीजों की जांच की। दोपहर 12: बजे तक ओपीडी में मरीजों की भीड़ रही। सेवारतचिकित्सक संघ के प्रदेशव्यापी आह्वान पर मंगलवार को दूसरे दिन भी कुचामन के डॉक्टर हड़ताल पर रहे। अस्पताल में केवल पीएमओ समेत 3 डॉक्टर ड्यूटी पर रहे। इधर, आज भी पुलिस रेसमा में किसी डॉक्टर को गिरफ्तार नाकामयाब रही। पुलिस का दावा था कि सादा वर्दी में निजी वाहन भेजकर दबिश दे रही है। लेकिन हड़ताल में शामिल डॉक्टर भूमिगत और शहर से बाहर हैं। हालांकि पुलिस का यह दावा झूठा निकला। हड़ताल में शामिल डॉ. जगदीश महला मंगलवार सुबह सूचना मिलने पर दुर्घटना में घायल हुए व्यक्ति की जांच के लिए पहुंचे थे। खास बात यह भी रही कि हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. महला शाम को पुलिस थाने से मात्र 100-150 कदम दूर एक मैरिज गार्डन में सवामणी प्रसादी में भोजन कर रहे थे।