May 28, 2024

बीकानेर के दौरे पर आये पूर्व मुंख्यमंत्री अशोक गहलोत की शुक्रवार रात यहां सर्किट हाऊस में पूर्व संसदीय संचिव कन्हैयालाल झंवर के साथ लंबे दौर की गुप्त मंत्रणा से कांग्रेस के सियासी हल्कों में सियासी गरमाहट बढ गई है। हालांकि पत्रकारों द्वारा इस संबंध में पूछे गये सवालों के जवाब में गहलोत ने झंवर के साथ औपचारिक भेंटवार्ता बताया लेकिन कांग्रेस हल्कों में चर्चा है कि गहलोत और झंवर की इस गुप्त मंत्रणा से कांग्रेस की रामेश्वर लाल डूडी की लॉबी में नाराजगी की लहर व्याप्त हो गई,इसके चलते डूडी समर्थकों ने सर्किट हाऊस में रात को गहलोत की मौजूदगी में रामेश्वर डूडी के समर्थन में जोर-शोर से हुई नारेबाजी कर सियासी माहौल गरमा दिया। गहलोत-झंवर की गुप्त मंत्रणा को लेकर शुरू हुई सियासी चर्चाओं में में कहा जा रहा है कि नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद प्रदेश कांग्रेस में ऊंची उड़ान भर रहे रामेश्वर डूडी के पर कतरने के लिये पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कन्हैयालाल झंवर को नजदीक लगाया है। जानकारी में रहे कि पूर्व संसदीय सचिव एवं नोखा विधायक रह चुके कन्हैयालाल झंवर और नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी के लंबे समय से एक दूसरे के ध्रुव विरोधी है। पार्टी सूत्रों की मानें तो अशोक गहलोत ने शुक्रवार की रात पूर्व संसदीय सचिव गोविन्द राम मेघवाल से काफी देर तक गुप्त मंत्रणा की।
पुलिस कर्मियों से भिड़ गये यूथ कांग्रेसी
रात को पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बीकानेर आगमन पर सर्किट हाउस में उनके स्वागत सत्कार के लिये पहुंचे यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस कर्मियों के बीच हुई झड़प से माहौल गरमा गया। बताया जाता है कि यूथ कांग्रेस नेता बिशनाराम सियाग और उनके समर्थकों को मौके पर तैनात पुलिस कर्मियों ने अशोक गहलोत के पीछे सर्किट हाउस के अंदर जाने से रोका था,यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं का मिजाज गरमा गया और उन्होने पुलिस कर्मियों से धक्का-मुक्की शुरू कर दी देखते ही देखते मामला इस कदर गरमा गया कि यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एक पुलिसकर्मी से हाथपाई शुरू कर दी,इस दरम्यान सीओ सदर राजेन्द्र सिंह राठौड़ और सदर थाना प्रभारी लक्ष्मण ङ्क्षसह बीच बचाव कर माहौल शांत कराया। इस घटनाक्रम की खबर मिलने के बाद सर्किट हाउस से बाहर आये नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं को शांति बनाये रखने का अनुरोध किया।