February 29, 2024

प्रेमी ने प्रेमिका का गला काटा : युवती ने खून से लिखे पेरेंट्स के नंबर; अनजान नंबर से आए कॉल पर हुई थी फ्रेंडशिप

धौलपुर। अनजान नंबर से आए कॉल से युवती को युवक से प्यार हो जाता है। दोनों में फोन पर बातचीत कर हो रही थी। फिर युवक युवती को घर से भगा ले जाता है। एक महीने साथ रखने के बाद युवती का चाकू से गला रेत दिया। मरा समझकर युवक मौके से फरार हो गया। युवती ने खून से पार्क की बेंच पर अपने मां-बाप का नंबर लिखा और जैसे-तैसे रेलवे स्टेशन पहुंची। मामला धौलपुर का सोमवार देर रात का है।
कोतवाली SHO अनिल जसोरिया ने बताया कि युवती ने कहा है कि एक साल पहले अनजाने में आए एक कॉल की वजह से उसे बाड़ी के युवक दिनेश माहौर से प्यार हो गया। 11 अक्टूबर को युवक उसको प्रताप नगर जयपुर से भगाकर अपने साथ बाड़ी ले आया।
बाड़ी में अपने साथ रखने के बाद युवक की बहन ने अपने भाई से उसे वापस जयपुर छोड़कर आने के लिए कहा। जिस पर सोमवार रात करीब 10 बजे रेलवे स्टेशन के पार्क में दिनेश और युवती में जयपुर वापस भेजने की बात पर कहासुनी हो गई। इससे गुस्साए युवक ने उसके गले पर चाकू से एक के बाद एक तीन वार कर दिए। युवती को मरा समझकर आरोपी मौके से फरार हो गया।

पार्क की बेंच पर खून से लिखे मोबाइल नंबर
गर्दन पर चाकू से एक के बाद एक वार होने के बाद युवती के काफी खून बह गया। इस पर जब उसे लगा की वह मर जाएगी तो उसने अपनी पहचान उजागर करने के लिए पार्क की बेंच पर खून से अपने मां-बाप के नंबर लिख दिए। नंबर लिखने के बाद युवती अपना सामान पार्क में छोड़कर धौलपुर स्टेशन के 2 नंबर प्लेटफार्म पर पहुंच गई।

जीआरपी कॉन्स्टेबल राजकुमार युवती को गंभीर हालत में लेकर 11 बजे जिला अस्पताल पहुंचे। युवती ने बताया कि उसके प्रेमी ने अपनी बहन के कहने पर उसकी हत्या करने की कोशिश की है। घटना के बाद जीआरपी चौकी पुलिस ने युवती के परिजनों को फोन पर सूचना दी। परिजनों ने बताया कि उनकी बेटी 1 महीने से गायब थी, जिसकी तलाश की जा रही थी।

रेलवे कॉलोनी के पार्क में मिले संघर्ष के निशान
युवती के प्रेमी ने रेलवे की कॉलोनी में बने पार्क में हत्या का प्रयास किया था। SHO अनिल जसोरिया मौके पर पहुंचे। जहां पार्क में युवती और उसके प्रेमी के बीच संघर्ष के निशान मिले। वहीं पार्क की बेंच पर युवती के लिखे नंबर मिले हैं।

जयपुर के प्रताप नगर थाने में गुमशुदगी का मामला दर्ज
SHO अनिल जसोरिया ने जयपुर में प्रताप नगर थाने में संपर्क किया। जहां पता चला कि युवती की 17 अक्टूबर को गुमशुदगी दर्ज हुई है। सीओ सुरेश सांखला ने बताया कि युवती के धौलपुर में होने की सूचना मिलने के बाद रात को जयपुर की प्रतापनगर थाना पुलिस परिजनों को लेकर धौलपुर पहुंची और युवती को इलाज के लिए जयपुर ले गई। युवती का SMS हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है।