April 15, 2024

स्कूल में मनाई एपीजे अब्दूल कलाम की जयंती
बीकानेर। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय शिवनगर में मिसाइल मैन एवं पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम का जन्मदिवस विद्यार्थी दिवस के रूप में बड़ी धूमधाम से मनाया गया। सर्वप्रथम उनकी फोटो पर दीप जलाकर कार्यक्रम की शुरुआत हुई। इस अवसर पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वरिष्ठ शिक्षक मोहरसिंह सलावद ने विद्यार्थियों को महापुरूषों के आर्दशों पर चलेन का संदेश देते हुए कहा कि पूर्व राष्ट्रपति डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम ने हमेशा अपने ज्ञान को बच्चों को बांटा। वह जहां जाते थे बच्चों से वार्तालाप करते थे और उन्हें अपना लक्ष्य निर्धारित करने की सलाह देते थे। अपने हर भाषण में कलाम छात्रों को नया और प्रेरणादायक उपदेश देते थे। सलावद ने बताया कि डॉ. कलाम छात्रों में एक प्रेरणा थे। वैसे तो कलाम के अंदर कई तरह के खूबियां थी लेकिन वह वैज्ञानिक होने के साथ-साथ एक बेहतरीन शिक्षक भी थे। वह दुनिया को बताना चाहते थे कि एक बनना शिक्षक उनकी पसंदीदा जॉब थी।उनके चरित्र में सबसे दिलचस्प एक बात थी कि वह हमेशा अपने प्रयोग में सकारात्मक सोचते रहे। इसी सोच से वह देश के महान वैज्ञानिक और बेहतरीन शिक्षक बने। मिसाइल मैन बनने के बाद उन्होंने राष्ट्रपति बनकर देश में अपना योगदान दिया। उनका जीवन दुनिया भर के लाखों-करोड़ों छात्रों के लिए प्रेरणा रहा सदियों तक रहेगा। इस अवसर पर व्याख्याता गोवर्धनलाल गोदारा,तेजपाल कोडेचा, सुजान सिंह राठौड़, बहादुर सिंह,रणछोड़ सिंह सोढ़ा, दयाराम, प्रभूराम, प्रेमसिंह सहित छात्र-छात्रा मौजूद रहे।