April 20, 2024

बीकानेर। 72 वां वार्षिक निरंकारी संत समागम सतगुरू माता सुदीक्षा जी महाराज के इस मानवतावादी आह्वान के साथ संपन्न हुआ कि जीवन को मानव मूल्यों से निखारते हुए विश्व बंधुत्व स्थापित करें। आपका कथन था कि सुख दु:ख से ऊपर उठकर सहज अवस्था में आनंदमय जीवन जीने का नाम ही भक्ति है। हरियाणा के समालखा स्थित आध्यात्मिक स्थल पर मानव एकता – सारा संसार एक मानव परिवार के रूप में देखने को मिली। बीकानेर जोन की इंचार्ज डॉ. संध्या सक्सेना ने बताया कि मानवता के मसीहा बाबा हरदेव सिंह की जीवनी के रूप में प्रकाशित पुस्तक – मेरे हरदेव का लोकार्पण भी माता सुदीक्षा जी के करकमलों से हुआ। सेवादल रैली, स्वास्थ्य एवं बाल विकास के साथ साथ पिछले 90 वर्षो में मिशन के आध्यात्मिक-सामाजिक सेवाओं को उजागर करने वाली प्रदर्शनियां भक्तों को आकर्षित कर रही थी। 24, 25 व 26 जनवरी 2020 को महाराष्ट्र के विशाल संत समागम की घोषणा भी हुई। यह समागम नासिक में होगा।