May 28, 2024

जयपुर। हॉस्टल के सभी कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर कुलपति सचिवालय के बाहर धरने पर बैठ गए, जिससे विश्व विद्यालय में आज ना तो किसी हॉस्टल का चूल्हा जला और ना ही किसी हॉस्टल में झाडू लगी, गौरतलब है कि राविवि के सभी गर्ल्स हॉस्टल के संविदा कर्मचारी अपनी विभिन्न मांगों को लेकर राविवि प्रशासन से मांग कर रहे थे लेकिन लम्बे समय से उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा था, जिसके चलते आज उन्होंने आंदोलन का रास्ता अपनाया, जिसके चलते राविवि के महिला छात्रावासों में आज मैस में खाना नहीं बना, तो वहीं छात्राएं भी कर्मचारियों के प्रदर्शन के समर्थन में उतरी तो कुछ हॉस्टल की छात्राओं ने राविवि प्रशासन से सुबह से भूखे होने की शिकायत की। कर्मचारियों ने आरोप लगाया की हॉस्टल में करीब 180 संविदा कर्मचारी है और वेतन के नाम पर उन्हें महज 4 से 5 हजार रुपये वेतन मिलता है जो भी समय पर नहीं मिलता,कर्मचारियों ने संविदा कर्मियों को नियमित करने साथ ही समय पर वेतन भुगतान करने की मांग की।