May 21, 2024

फीस बढ़ोत्तरी के विरोध में धरना छठे दिन भी जारी
बीकानेर।
फीस बढ़ोत्तरी को लेकर एनएसयूआई संगठन के नेतृत्व में आज राजकीय डूंगर महाविद्यालय में तालाबंदी कर रोष जताया। इस दौरान छात्रों ने कॉलेज में चल रही कक्षाओं को रूकवाकर प्रवेशद्वार तालाबंदी कर विरोध प्रदर्शन करते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन एवं राज्य सरकार के विरूद्ध जमकर नारेबाजी की। इस दौरान विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए एनएसयूआई जिलाध्यक्ष रामनिवास कूकणा ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से फीस बढ़ोत्तरी के विरोध में किए जा रहे विरोध प्रदर्शन व धरने के बावजूद भी विश्वविद्यालय एवं राज्य सरकार के कान में झूं भी नहीं रैंगी हैं। आनन-फानन में वार्ता कर फीस बढ़ोत्तरी पर सहमति का दावा करते हुए फीस बढ़ाई गई जिससे छात्रों में भारी रोष व्याप्त है। संभागभर के कॉलेजों में इस प्रकार विश्वविद्यालय की मनमानी से बढ़ाई गई फीस से किसान व मजदूर वर्ग के परिवार से अध्ययन के लिए आने वाले विद्यार्थियों के साथ कुठाराघात किया गया। उन्होंने कहा कि पिछली बार ५० रुपये फीस बढ़ोत्तरी पर संगठन की ओर से पूरजोर विरोध किया गया जिससे आदेशों को वापिस लेेते हुए फीस बढ़ोत्तरी नहीं की गई। इस बार भी संगठन की ओर से प्रयास किया जा रहा है कि विद्यार्थियों व उनके परिवारों पर विश्वविद्यालय की ओर से फीस बढ़ोत्तरी के बोझ को हटवाया जाएगा। इसके लिए संभागभर के कॉलेजों में आंदोलन होगा।
रामनिवास कूकणा ने बताया कि आगामी दो दिनों में विश्वविद्यालय के अधीन अध्ययनरत विद्यार्थियों द्वारा विश्वविद्यालय कूच कर कुलपति का घेराव किया जाएगा। इस दौरान एनएसयूआई के श्रीकृष्ण गोदारा, कुलदीप विश्रोई, रामलाल चौधरी, वीरेन्द्र चौधरी, रामदयाल लेघा, रामगोदारा, रामचंद्र भादू, सुन्दर बेरड आदि मौजूद रहे।