February 22, 2024

आरएस क्रेटिड प्राईवेट लिमिटेड कंपनी से जुड़ा है मामला, बैंक अधिकारी भी नाममद
बीकानेर। बैंक ऑफ बड़ोदा की स्टेशन रोड़ शाखा में मुरलीधर व्यास कॉलोनी के सुनिल कुमार नामक युवक के नाम से फर्जी खाता खोलकर गंगाशहर की आरएस क्रेडिक प्राईवेट लिमिटेड कंपनी दो साल तक लाखों का लेन देन करती रही,आयकर विभाग की अन्वेशषण टीम ने जब बैंक से खाते का रिकॉर्ड जुटाकर खाता धारक को १ करोड़ ४० लाख रूपये वसूली का नोटिस भेजा तो सुनिल कुमार के होश उड़ गये,उसने आयकर विभाग अधिकारियों को अवगत कराया कि बैंक ऑफ बड़ौदा की किसी शाखा में उसका खाता ही नहीं है। सुनिल कुमार ने इस मामले में आयकर अधिकारियों से खाता संबंधी जानकारी हासिल की तो कई चौंकानें वाले तथ्य सामने आये है। सुनिल कुमार ने बताया कि साल २०१०-११ में स्टेशन रोड़ की बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा में किसी धर्मचंद बौथरा नामक शख्स की गांरटी पर मेरे फर्जी दस्तावेजों से खोले गये खाते की तस्दीक बैँक कर्मचारी विनोद कुमार बौथरा ने की थी,मेरे इस खाते से गंगाशहर की आरएस क्रेडिट प्राईवेट लिमिटेड कंपनी के संचालकों ने बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों की मिलीभगती से ७४ लाख रूपये का लेन देन किया। खाता खोलने के लिये मेरे दस्तावेज कहां से हासिल किये इस बारे में मुझे जानकारी नहीं मिली है। पीडि़त सुनिल सोनी की ओर से जरिये अदालती इस्तगासे पर कोटगेट थाना पुलिस ने इस मामले में आरएस क्रेडिट कंपनी प्राईवेट लिमिटेड,बैंक ऑफ बड़ौदा के प्रबंधक और कर्मचारी विनोद कुमार बौथरा समेत खाते के गांरटर बने धर्मचंद बौथरा के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू की है।