February 29, 2024

बीकानेर। खाजूवाला में बालिका के साथ गैंगरेप की वारदात में नामजद दोनों मुलजिम विजय पुत्र इंद्राज जाट और मोहन उर्फ मोनू पुत्र अमरीक सिंह बाजीगर को पुलिस ने गिरफ्त में ले लिया है। जिन्हे शनिवार को न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लिया जायेगा। बताया जाता है वारदात के बाद मुकदमा दर्ज होने की खबर लगने के बाद दोनों मुलजिम फरार होने प्रयास कर रहे थे लेकिन खाजूवाला पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए दोनों को दबोच लिया। जानकारी में रहे कि गत २९ नवंबर की रात खाजूवाला में सिनेमा हाल के पास बालिका बदहवास हालत में मिली। पीडि़ता की मां ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि 29 नवंबर की रात को खाना खाकर घर के सभी सदस्य सो गए। रात को उसकी पुत्री लघुशंका के लिए घर के चौक में गई। तभी दीवार फांदकर आरोपित मोहन आया और उसने जबरन उसकी पुत्री उठाकर दीवार के पास से अपने साथी विजय कुमार को पकड़ा दिया। इसके बाद दोनों आरोपित उसकी पुत्री को बिना नंबरी गाड़ी में डालकर सिनेमा हॉल की तरफ ले गए। वहां पर बालिका के साथ दोनों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। परिवादिया ने बताया कि रात को उसकी नींद खुली तो उसकी बेटी नहीं थी। इसकी सूचना उसने रात को ही खाजूवाला पुलिस को दे दी। बालिका के अपहरण की सूचना मिलने के बाद पुलिस टीमों को तलाशी के लिए लगाया गया। इस दरम्यिान अद्र्धरात्रि को सिनेमा हाल के पास बालिका बदहवास हालत में मिल गई थी।