February 22, 2024

प्रदेश में डॉक्टरों की हड़ताल के समय हुई मौतों की जिम्मेदारी लेते हुए अगर चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ अपना इस्तीफा नहीं देते हैं, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा। यह बात नवलगढ़ से निर्दलीय विधायक डॉ. राजकुमार शर्मा ने जयपुर में पत्रकार वार्ता के दौरान कही। उन्होंने हड़ताल के दौरान हुई मौतों के लिए स्वास्थ्य मंत्री को जिम्मेदार ठहराते हुए उनसे इस्तीफे की मांग की थी। विधायक राजकुमार शर्मा ने 12 दिन की डॉक्टर्स की हड़ताल के बाद हुए समझौते के विरोध में विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने की घोषणा की है।
डॉ. शर्मा ने कहा कि जब डॉक्टरों ने पहले हड़ताल की, तब वार्ता के दौरान हुए समझौते की क्रियान्विति के आश्वासन के बाद हड़ताल समाप्त हुई थी। उसी मांग को लेकर फिर हड़ताल हो गई और अब फिर डॉक्टरों की मांगें मान ली गईं। इस हड़ताल के दौरान सैकड़ों मरीजों की जान पर बन आई और कई मरीजों की जान भी चली गई। सरकार अगर इस मामले को गंभीरता से लेती तो यह समझौता पहले भी हो सकता था और लोगों की जान बचाई जा सकती थी।
मरीजों की मौत के लिए चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी दोषी हैं। सराफ इस्तीफा नहीं दे रहे हैं, इसलिए वे स्वयं विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे रहे हैं। उधर चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ ने डॉ. शर्मा के बयान को पॉलिटिक्स करना बताया है।