April 23, 2024

‘अगर मां का दूध पीया है तो मेरे गिरेबां में झांक कर देखो…’ मदन दिलावर को डोटासरा का करारा जवाब

जयपुर। राजस्थान में लोकसभा चुनावों को लेकर बीजेपी और कांग्रेस के प्रत्याशी प्रचार-प्रसार में जुट गए हैं जहां अब चुनावी मौसम में बयानबाजी का दौर भी शुरू हो गया है. इसी कड़ी में राजस्थान के शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने हाल में टोंक में पीसीसी चीफ गोविंद डोटासरा को लेकर एक बड़ा बयान दिया जिस पर अब डोटासरा ने बुधवार को पलटवार किया है.दरअसल टोंक से बीजेपी प्रत्याशी सुखबीर सिंह जौनापुरिया की नामांकन रैली के दौरान शिक्षामंत्री ने कहा कि पेपर लीक मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और गोविंद सिंह डोटासरा भी कुछ समय में जेल जाएंगे.

वहीं बुधवार को बाड़मेर में उम्मेदाराम बेनीवाल की नामांकन रैली की सभा में पहुंचे डोटासरा ने मंच से ही दिलावर को कहा कि अगर उन्होंने मां का दूध पीया है तो वह डोटासरा के गिरेबां में झांक कर देखें. इसके अलावा पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने भी दिलावर के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि जब आचार संहिता लगी हुई तो ऐसे में इस प्रकार की धमकियां देना बहुत अशोभनीय है.

डोटासरा का दिलावर को करारा जवाब
बता दें कि टोंक में शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने कहा था कि गहलोत सरकार के कारिंदों में भर्ती परीक्षाओं के पेपर बेचकर राजस्थान के युवाओं के साथ बड़ा खिलवाड़ किया गया था और उन्होंने युवाओं के सपनों को रौंधकर करोड़ों रुपए बटोरने का काम किया है. दिलावर ने आगे कहा कि हमारी सरकार अब इन दोषियों को किसी भी हालत में नहीं छोड़ेगी और गहलोत और डोटासरा जो हर दिन बचने की जुगत लगा रहे हैं वो दोनों भी जेल जाएंगे.

इस पर पलटवार करते हुए डोटासरा ने कहा कि मिस्टर दिलावर, अगर आपने मां का दूध पीया है तो मेरे गिरेबां में झांककर देखना. उन्होंने कहा कि मैं एक मास्टर और किसान का बेटा हूं और आज तक एक रुपए का भी दाग मेरे ऊपर नहीं लगा है.

पायलट ने बताया अशोभनीय
वहीं बुधवार को बाड़मेर में होटल कैलाश इंटरनेशनल में मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए सचिन पायलट ने भी मदन दिलावर के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी. पायलट ने कहा कि शिक्षा मंत्री एक जिम्मेदार पद पर बैठे व्यक्ति हैं उनको ऐसी भाषा नहीं बोलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि चुनाव के लिए आचार संहिता लगी हुई है ऐसे में इस तरह की बातें करना अशोभनीय है.