May 21, 2024

फुटबॉल की विश्व नियामक संस्था-फीफा के अध्यक्ष गियानी इन्फैंटीनो ने कुवैत फुटबॉल संघ पर लगे दो साल के प्रतिबंध को हटाए जाने की घोषणा की है। गियानी ने कहा कि कुवैत फुटबॉल संघ पर लगे इस प्रतिबंध को आधिकारिक रूप से हटा दिया गया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, कुवैत के एमिर शेख सबाह अल-अहमद अल-जाबेर अल-सबाह के साथ मुलाकात के बाद फीफा अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें आशा है कि इस प्रतिबंध के हटने से राष्ट्र में फुटबॉल की एक नई सदी की शुरुआत होगी। एमिर ने प्रतिबंध को हटाने और कुवैत एथलीटों के समर्थन के लिए फीफा प्रमुख का आभार जताया। पिछले रविवार को कुवैत संसद ने खेल कानूनों को लागू करने के लिए हामी भर दी थी। फीफा ने 2015 में देश के फुटबॉल निकाय के संचालन में सरकार के हस्तक्षेप के आरोप के तहत कुवैत के राष्ट्रीय फुटबॉल संघ पर प्रतिबंध लगा दिया था।
ब्राजीलियाई क्लब फ्लामेंगो के साथ ऋण करार के समापन के बाद अर्जेंटीना के मिडफील्डर डारियो कोनका अब चीन के क्लब शंघाई एसआईपीजी में वापसी के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। कोनका के प्रतिनिधियों ने उनके फ्लूमिनेंसे क्लब में जाने की संभावनाओं को सिरे से खारिज कर दिया है। प्रतिनिधियों का कहना है कि 34 वर्षीय खिलाड़ी इस माह के अंत में चीन जाएंगे। कोनका एक साल के ऋण करार पर जनवरी में फ्लामेंगो क्लब में शामिल हुए थे, लेकिन उन्होंने क्लब के साथ केवल तीन मैच ही खेले। वह घुटने में चोट की समस्या से जूझ रहे थे। कोनका के एजेंट मार्कोस मोट्टा ने कहा, बुधवार को उन्होंने अंतिम बार फ्लामेंगो की टीम के साथ प्रशिक्षण किया था। एजेंट ने कहा, उन्होंने चीनी सुपर लीग क्लब शंघाई में 27 दिसम्बर को वापसी के लिए अपना सामान बांध लिया है। कोनका 2015 में फ्लामेंगो क्लब से शंघाई में शामिल हुए थे। शंघाई के साथ उनका करार दिसम्बर, 2018 में समाप्त होगा।