February 26, 2024

चूरू। आजकल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे प्लास्टिक के चावल का वीडियो तो आप सबने देखा ही होगा. कई लोगों के मन में ये वीडियो देखकर एक डर पैदा हो गया है कि बाजार में मिलने वाले इस नकली चावल को कैसे पहचानेंगे. कहीं चावल के नाम पर प्लास्टिक खा लिया तो सेहत का क्या होगा. कई लोगों ने तो इस डर से चावल खाना ही बंद कर दिया है. ये नकली चावल आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक है. बताया जाता है कि ये चावल चीन द्वारा बनाए जाते हैं। ये नकली चावल असली चावल की तरह ही दिखाई देते हैं. इसलिए इसे देखककर इसके असली या नकली होने का पता नहीं चल पाता है. प्लास्टिक में एक खतरनाक रसायन होता है जो आपके हॉर्मोन्स को प्रभावित करता है. इसके साथ ही ये चावल खाने से पेट संबंधित कई प्रकार की समस्या हो सकती है. वहीं हाल ही में जयपुर के एक टिफिन सेंटर के खाने में प्लास्टिक के चावल मिलने से हड़कंप मच गया. टिफिन सेंटर से खाना मंगवाने वाले युवक को चावल खाने से पहले उनके प्लास्टिक के होने का शक हुआ. इसके बाद उसने टिफिन सेंटर और पुलिस को फोन कर शिकायत की. युवक की शिकायत के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने भी चावल पर संदेह व्यक्त करते हुए जांच शुरू कर दी है. पुलिस के अनुसार दयानंद कॉलोनी में रहने वाले धर्मेंद्र ने टिफिन सेंटर से खाना मंगवाया था. खाना खाते समय उसे चावल के नकली होने की आशंका हुई. इस पर उसने पुलिस का सूचना दी. मौके पर बजाज नगर पुलिस पहुंची और टिफिन सेंटर संचालक से पूछताछ के बाद चावल के सैंपल खाद्य विभाग को जांच के लिए भेजने की कार्रवाई शुरू कर दी. हालांकि अभी तक यह पुष्टि नहीं हो सकी है कि चावल प्लास्टिक के थे अथवा नहीं. बता दें क आजकल सोशल मीडिया पर प्लास्टिक के चावल के कई वीडियो वायरल हो रहे हैं. ये नकली चावल आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक है. कई लोगों के मन में ये वीडियो देखकर एक डर पैदा हो गया है कि बाजार में मिलने वाले इस नकली चावल को कैसे पहचानेंगे. कहीं चावल के नाम पर प्लास्टिक खा लिया तो सेहत का क्या होगा. कई लोगों ने तो इस डर से चावल खाना ही बंद कर दिया है. एक बर्तन में एक कटोरी चावल और 2 गिलास पानी डालकर कुछ देर के लिए रख दें. अगर पूरा चावल भीग कर बर्तन की तली में जमा हो गया है तो चावल असली है. लेकिन आधे घंटे बाद भी अगर चावल पानी में तैर रहा है तो वे नकली है. इसे भूलकर भी न खाएं. एक बर्तन में एक कटोरी चावल लें और एक गिलास पानी डालकर माइक्रोवेव में पकने के लिए रख दें अगर चावल असली है तो अच्छे से पक जाएगा और पूरा पानी सोख लेगा. अगर प्लास्टिक का चावल है तो कच्चा रह रह जाएगा और पानी के ऊपर एक मोटी सी परता जम जाएगी. एक बर्तन में तेल गर्म करें जब तक तेल से धुंआ न निकले. अब इस तेल में चावल डालें अगर चावल नकली होगा तो तेल में पिघलने लगेगा. अगर असली होगा तो तेल में फ्राय हो जाएगा. तेज आंच पर एक तवा गर्म करें और उस पर चावल डालें. अगर चावल प्लास्टिक के हैं तो पिघलना शुरू हो जाएंगे. अगर असली चावल होंगे तो पहले कुछ देर तक ऐसे ही रहेंगे फिर हल्के गुलाबी होंगे और धीरे-धीरे काले हो जाएंगे. अगर पकने के बाद आपका चावल जल्दी खराब नहीं होता और कई दिनों तक रखने के बाद भी उसमें कोई बदबू नहीं आती तो चावल नकली है.