March 5, 2024

अहमदाबाद. लश्कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद की पाकिस्तान में रिहाई को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा। उन्होंने शनिवार को ट्वीट में लिखा कि नरेंद्रभाई का डोनाल्ड ट्रम्प को गले लगाना काम नहीं आया। अमेरिकी राष्ट्रपति ने पाकिस्तानी सेना को लश्कर को फंड देने के आरोप में क्लीनचिट दे दी है। बता दें कि आतंकी सईद 10 महीने की नजरबंदी के बाद गुरुवार रात रिहा हुआ। इसके बाद उसने केक काटकर रिहाई का जश्न मनाया।

– राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा- ” नरेंद्रभाई, बात नहीं बनी। आतंक का मास्टरमाइंड आजाद है। ट्रम्प ने पाक सेना को लश्कर की फंडिंग में क्लीनचिट दे दी है। गले लगाने की पॉलिसी नाकाम हो गई। फौरन और गले लगाने की जरूरत है।”
– पाक सेना पर टेरर फंडिंग के आरोप लगते रहे हैं, लेकिन हाल ही में अमेरिका ने पाक सेना को इन आरोपों में क्लीनचिट दे दी है। इससे भारत की उम्मीदों को झटका लगा है।
हक्कानी के खिलाफ कार्रवाई, लश्कर का नाम हटा
– न्यूज एजेंसी के मुताबिक, अमेरिकी संसद ने एक बिल पास किया है, जिसमें कहा गया है कि पाकिस्तानी सेना को हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ कार्रवाई करनी होगी। इस काम में उसे अमेरिकी सेना और अफगानिस्तान की सेना की मदद मिलेगी। इस बिल में लश्कर के खिलाफ कार्रवाई का जिक्र नहीं है।
सईद पर अमेरिका ने क्या कहा था?
– न्यूज एजेंसी के मुताबिक, अमेरिकी विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन हेथर न्यूर्ट ने कहा था कि लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद की रिहाई को लेकर अमेरिका चिंतित है। पाकिस्तान की सरकार उसे गिरफ्तार कर गुनाहों के लिए सजा दे।
– लश्कर एक ग्लोबल टेररिस्ट ऑर्गनाइजेशन है और आतंकी हमले कर अब तक सैकड़ों बेगुनाहों की जान ले चुका है। इसमें कई अमेरिकी नागरिक भी शामिल हैं। बता दें कि आतंकी हाफिज के ऊपर अमेरिका ने 10 मिलियन डॉलर का इनाम रखा है।