May 21, 2024

राजस्थान के 3 शहरों में एनआईए की रेड, सुबह 5 बजे मकान पर छापेमारी
जयपुर। नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने बुधवार तड़के राजस्थान में तीन शहरों कोटा, टोंक, गंगापुर में रेड डाली। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) साजिश मामले में NIA ने छापेमारी की है। NIA टीमों ने सुरक्षा के लिहाज से स्थानीय पुलिस की भी मदद ली है। टीम ने कुछ संदिग्धों को भी हिरासत में लिया है और कुछ मोबाइल व लैपटॉप भी खंगाले हैं। टोंक शहर में NIA की टीम ने बड़ा कुआ क्षेत्र में एक मकान पर छापेमारी की कार्रवाई की है।
टीम ने संदिग्ध व्यक्ति और उसके परिवार से पूछताछ की है। हालांकि टीम ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया है। करीब साढ़े तीन घंटे चली कार्रवाई व पूछताछ में संदिग्ध व्यक्ति और उसके परिवार से पूछताछ करके टीम वापस लौट गई है। सूत्रों के अनुसार टोंक शहर के बड़ा कुआ क्षेत्र के एक व्यक्ति के देश में प्रतिबंधित संगठन पीएफआई से जुड़े होने की खबर मिली थी। इसका इनपुट मिलने के बाद सुबह 5 बजे टीम कोतवाली थाने पहुंची। यहां से पुलिस अधिकारियों की टीम के साथ संदिग्ध व्यक्ति के मकान पर पहुंचे। बताया जा रहा है कि एनआईए की टीम ने 45 साल के व्यक्ति से पीएफआई की फंडिंग को लेकर जानकारी जुटाई है।
बारां में भी टीम की कार्रवाई, खंगाल रही है लैपटॉप और मोबाइल
एनआईए की टीम ने बारां में एक संदिग्ध के घर दबिश दी। टीम तड़के 4 बजे कोतवाली थाना क्षेत्र में कौसर कॉलोनी पहुंची और संदिग्ध से पूछताछ की। बताया जा रहा है कि एनआईए की टीम ने संदिग्ध के घर से मोबाइल, लैपटॉप व कुछ दस्तावेज जब्त किए। फिर पूछताछ के लिए थाने लेकर आई और अब भी कार्रवाई जारी है।
पुलिस सूत्रों के मुताबिक पीएफआई, उसके समर्थकों की हिंसक और देशी विरोधी गतिविधियों को लेकर पिछले साल एनआईए ने केस दर्ज किया था। यह मामला बिहार के फुलवारी शरीफ में पुलिस की कार्रवाई के बाद सामने आए तथ्यों के आधार एनआईए ने जब्त किया था। आज जिन लोगों के घर छापा मारा गया है, उनके तार इस केस से जुड़े थे।
राजस्थान में इस सांसद की गाड़ी ने भीड़ को मारी टक्कर …CLICK