April 23, 2024

श्रीगंगानगर,(सतनाम मांगट)।स्वच्छ भारत अभियान में लाखों, करोड़ राशि खर्च हो रहे हैं लेकिन फिर भी हर तरफ कचरा,गन्दगी के ढेर,बदबू फैलती डस्ट बिन, प्रशासन का लाचार रवैया।
चारो तरफ गन्दगी फैली हुई देख कर नही लगता कि भारत में स्वच्छता अभियान में जमीन स्तर पर कार्य हुये हैं,कर्मचारियों, ओर नेताओं में स्वच्छता अभियान की वाह वाही लूटना,स्वच्छ भारत अभियान में बढ़ चढ़ कर फोटोज खिंचवाना एक सस्ती लोकप्रियता का फैशन ही बनता जा रहा है हम सरकारी अस्पताल, रेलवे स्टेशन, स्थानीय बस स्टैंड, मे चारों ओर गन्दगी ,सडांध मारते कूड़े के ढेर देखते, जब यह सब कुछ नही बदल रहा तब कैसे स्वीकार करते हैं कि स्वच्छ भारत अभियान में जमीनी स्तर पर काम किया।

लेकिन फिर भी अगर स्वच्छ भारत और स्वछता की स्थिति देखनी हैं तो हम आपको एक रेलगाड़ी के अंदर सीटो पर आसपास पसरी गन्दगी की फ़ोटो भी दिखा रहे हैं, जिससे आप खुद स्वीकार कर सकते हैं कि स्वछता अभियान में भारत के राजकोष को जमकर चुना लग रहा है । यह ट्रेन सूरतगढ़ से चल कर श्रीगंगानगर के रस्ते हनुमानगढ़ ज.वाली रेलगाड़ी संख्या 54762,ओर बोगी संख्या08438की है।,रेलगाड़ी में सफाई व्यवस्था देख कर यात्रा कर रहे यात्रियों ने रेलवे कर्मचारियों को बुलाया और लेकिन कुछ उचित सहयोग नही मिल सका।