February 22, 2024

सीवर प्लाट में गिरने से दो मजदूरों की मौत : चैम्बर में वॉल खोलने के दौरान हुआ हादसा,अधिक वॉल खुलने से मलबे में डूब गए थे दोनों मजदूर

जयपुर। कालवाड़ इलाके में सीवर प्लान पर काम करने के दौरान बड़ा हादसा हो गया। नीचे वॉल खोलने के लिए गए तीन मजदूर एकाएक खुले वॉल से वहां मलबे में डूब गए। शोर होने पर प्लान को बंद करने का प्रयास किया गया लेकिन उस में समय लग गया। मजदूरों के प्लाट के मलबे में दबे होने की जानकारी मिलने पर सिविल डिफेंस की टीम को मौके पर भेजा गया। टीम ने मशील चालू कर पहले मलबे को बाहर निकाला जहां से एक व्यक्ति जिंदा निकला दो को अचेत अवस्था में बाहर निकाला गया। तीनों को निजी अस्पताल भेजा गया जहां पर दो की मौत हो गई एक की हालत अभी ठीक हैं। मृतकों की पहचान कालवाड़ निवासी विनोद और सन्नी के रूप में हुई हैं। दोनों की बॉडी को कांवटिया अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया गया हैं। जहां पर कुछ समय बाद मेडिकल बोर्ड से इन का पोस्टमार्टम होगा। वहीं काम करने वाले रवी की हालत में सुधार हैं।

वॉल एकाएक अधिक खुलने से हुआ हादसा
कालवाड़ थाना पुलिस ने बताया कि रवि मीणा,विनोद रेगर और सन्नी मीणा एक साथ कैट की सफाई करने नीचे उतरे थे। यह टैंक करीब 30 से 40 फीट गहरा हैं। यहां पर से वेस्ट और पानी को अलग किया जाता हैं।सुबह करीब 9बजे 20 वर्षीय रवि मीणा वॉल के पास था और 25वर्षीय विनोद रेगर और 25वर्षीय सन्नी मीणा टैंक के अंदर थे। वॉल को रवि मीणा ने खोल।इस दौरान वॉल अत्यधिक खुल गया।जिसके वेग के सामने आने पर रवि मीणा भी टैक में गिर गया। लेकिन बाद उसे निकाल लिया गया। लेकिन इस दौरान विनोद और सन्नी मीणा गहराई में होने के कारण खुद को बाहर नहीं निकाल सके। वह वैस्ट में फंसते चले गए। जिससे उनकी वहीं पर मौत हो गई।

मुआवजे को लेकर परिवार ने किया प्रदर्शन
विनोद और सन्नी मीणा इस प्लांट पर ठेकेदार के पास हैल्पर का काम किया करते थे। एकाएक हुई इस घटना के बाद दोनों मृतकों का परिवार भी मौके पर पहुंच गया। इस पर परिवार के लोगों ने यहां पर कुछ देर कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शन भी किया। वह समाज के लोगों ने परिवार को मुआवजे को लेकर भी प्रदर्शन किया हैं।