February 29, 2024

जोधपुर के शिकारगढ़ सैन्य क्षेत्र स्थित हमीद बाग आर्मी आवासीय क्वार्टर में हुए विस्फोट से एक 8 वर्षीय मासूम की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. विस्फोट इतना जबरदस्त था कि हादसे के बाद क्वार्टर के दरवाजा क्वार्टर की दीवार और छत भी क्षतिग्रस्त हो गई. हादसे की सूचना के बाद मौके पर पहुंची रातानाडा थाना पुलिस और सेना ने मौका मुआयना कर मामले की जांच शुरू की है. जोधपुर के शिकारगढ़ सैन्य क्षेत्र स्थित आर्मी आवासीय कॉलोनी हमीद बाद में धर्मेंद्र कुमार के क्वार्टर में आज जैसे ही बच्ची ने क्वार्टर का दरवाजा खोला तो जबरदस्त विस्फोट हुआ. जिससे धर्मेंद्र कुमार की 8 वर्ष के मासूम खुशी की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. विस्फोट इतना जबरदस्त कि हादसे में क्वार्टर का दरवाजा दीवार और छत को नुकसान पहुंचा है. हादसे की सूचना के बाद सेना के अधिकारी सेना पुलिस रातानाडा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और पुलिस ने घटनास्थल का मौका मुआयना करने के बाद शव को कब्जे में लिया. हादसे के बाद एफएसएल टीम को भी मौके पर बुलाया गया. जहां टीम ने मौके से जांच के नमूने लिए. उसके बाद मृतका का जोधपुर के एमजीएच मोर्चरी में मेडिकल पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया. रातानाडा थाना पुलिस के उप निरीक्षक दिनेश लखावत ने बताया कि धर्मेंद्र कुमार सेना में पैरा रेजिमेंट में कार्यरत है और उसकी बच्ची ट्यूशन पढ़ने के बाद जैसे ही घर पर पहुंची और उसने क्वार्टर का दरवाजा खोला तो अचानक जबरदस्त विस्फोट हुआ. इससे बच्ची की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. फिलहाल विस्फोटक किस तरह का था इस बारे में जानकारी नहीं हो सकी है. एफएसएल की रिपोर्ट आने के बाद ही इसका खुलासा हो सकेगा.