March 5, 2024

गजनेर रोड पर अस्थाई अतिक्रमणियों की भरमार
बीकानेर।
राजस्थान उच्च न्यायालय के आदेशानुसार शहर में अतिक्रमण का सफाया करने के लिए लगे विभागों द्वारा कार्रवाई तो की गई लेकिन फीडबैक के अभाव के कारण कार्रवाई बेअसर साबित होती चली जा रही है। जानकारी में रहे कि शहर में बढ़ते अतिक्रमण पर सफाया कर रहे नगर विकास न्यास व नगर निगम की ओर अंधाधुंध कार्रवाई कर तोडफ़ोड़ की गई। इसके पश्चात् कुछ समय तक रोकी गई अतिक्रमण की कार्रवाई के बाद फिर से अतिक्रमणियों के हौंसले बुलंद हो गये फिर से वही हालात दिखाई देने लगे। दूसरी ओर इन विभागों द्वारा कार्रवाई के पश्चात् उन स्थानों पर एक बार भी पीछे मुड़कर नहीं देखा जा रहा है। जिसका नतीजा है कि कार्रवाई के चंद ही समय बाद अतिक्रमणियों द्वारा फिर से वहीं खड़े कर दिए गए है। नगर विकास न्यास व नगर निगम की इस लापरवाही से अतिक्रमणियों के हौंसले दिनों-दिन बुलंद होते चले जा रहे है।
नगर विकास न्यास व नगर निगम के संयुक्त तत्वावधान् में की गई कार्रवाई के दौर में राष्ट्रीय राजमार्गो पर कार्रवाई को अंजाम दिया गया। उस दौरान काफी हद विरोध किया लेकिन अधिकारियों ने किसी की एक न सुनी और जेसीबी निरन्तर अपना काम कर निकल गई। वहीं जानकारी में रहे कि गजनेर रोड ओवर ब्रिज से लेकर पूगल फांटे तक की गई कार्रवाई तो चंद समय तक ही अपना असर नहीं छोड़ पाई और उन स्थानों पर हालात फिर से वहीं हो गए। जानकारी में रहे कि हाल ही नगर विकास न्यास के जत्थे द्वारा गजनेर रोड पर नापतौल कर अतिक्रमणी जमीन पर रैड क्रॉस किया गया है।
अस्थायी अतिक्रमणी बेखोफ : प्रशासन की ओर से की गई कार्रवाई के दौरान मकान मालिकों व प्रतिष्ठानों पर कार्रवाई से पूर्व ही चिह्निकरण के दौरान कुछ लोगों द्वारा भयभीत होकर स्वयं ही कब्जे हटाए गए लेकिन वहीं दूसरी ओर बजरी, ईंट व अन्य विक्रेताओं द्वारा इन मार्गों पर अस्थाई दुकाने लगाकर बेखोफ कब्जा किया हुआ है। इन स्थानों पर कार्रवाई से पूर्व सूचना मिलने पर ईंट, बजरी व अस्थाई दुकानों को हटा लिया गया वहीं कार्रवाई के थोड़े ही समय बाद फिर से अस्थाई कब्जे कर लिए गए। ऐसे ही हालात गजनेर रोड ओवरब्रिज से लेकर पूगल फांटे तक के बने हुए है। यह मार्ग अस्थाई कब्जाधारियों का अड्डा बना हुआ है और इसकी खबर प्रशासन होने के बावजूद भी इसे अनदेखा किया जा रहा है।
करमीसर तिराहे पर अस्थाई अतिक्रमण : बीकानेर से जैसलमेर राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित करमीसर तिराहे पर पिछले लम्बे समय से अस्थाई अतिक्रमणियों की भरमार लगी हुई है लेकिन इस पर कार्रवाई के लिए प्रशासन ने अभी तक जहमत नहीं उठाई है। राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित करमीसर तिराहे पर पहले से चल रहे अस्थाई कब्जों के बाद वर्तमान समय में हालात और भी बद्तर हो गए है। जानकारी में रहे इस मार्ग पर राष्ट्रीय राजमार्ग को फोरलेन से सिक्सलेन करने के लिए इरकान कम्पनी की ओर कार्य करवाया जा रहा है जिसके तहत् सड़क मार्ग के दोनों गड्ढे खोदकर कार्य किया जा रहा है जिससे इस मार्ग पर अधिकांश तौर पर ट्रक सड़क पर ही कर दिए जा रहे है वहीं दूसरी ओर से इस तिराहे पर टै्रक्टर ट्रॉलियां भरकर बजरी बेची जा रही है। इन सब हालातों में इस मार्ग से गुजर पाना बेहद मुश्किल कार्य हो जाता है।