February 25, 2024

ओबीसी आरक्षण विसंगतियों पर सीएम गहलोत का बड़ा बयान

जयपुर। प्रदेश में ओबीसी आरक्षण विसंगति मामले को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बड़ा बयान सामने आया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि युवाओं की मांग वाजिब है और युवाओं के साथ अन्याय नहीं होने देंगे, साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपील भी की है कि कोई भी युवाओं को गुमराह करने का प्रयास नहीं करें।

सीएम गहलोत ने बुधवार को कांग्रेस वॉर रूम के बाहर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि ओबीसी आरक्षण विसंगति का मुद्दा बेहद संवेदनशील है, पूर्ववर्ती वसुंधरा सरकार के समय तकनीकी गलतियों की वजह से युवाओं को इसका नुकसान उठाना पड़ा। सीएम गहलोत ने कहा कि हमने इस पूरे प्रकरण का परीक्षण कराया है। पूर्व सैनिकों का भी इसमें कोई नुकसान नहीं होना चाहिए।

यह जाट और राजपूत या किसी अन्य जाति का मामला नहीं है। इसे जातिगत मुद्दा नहीं बनाना चाहिए। हर जाति में मनमुटाव होता है लेकिन ऐसे हालात पैदा नहीं करें कि आपस में मनमुटाव बढे़। गहलोत ने कहा कि सरकार इस मुद्दे पर संवेदनशील है। सीएम गहलोत ने कहा कि इस मुद्दे पर कैबिनेट की बैठक में अलग से चर्चा होगी।

भाजपा अलग-अलग हथकंडे अपना रही
कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा की सफलता से डरकर बीजेपी अलग-अलग हथकंडे अपना रही है। राजस्थान में भारत जोड़े यात्रा ऐतिहासिक और शानदार होगी। लोगों में इस यात्रा को लेकर काफी उत्साह है। देश में राहुल गांधी भय, भ्रष्टाचार, महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ संदेश पहुंचाने के लिए यह यात्रा निकाल रहे हैं। राहुल गांधी केंद्र सरकार की नाकामियों को उजागर कर रहे हैं।

कांग्रेस के शासन में सब को बोलने का हक
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुर्जर नेता विजय बैसला के बयान पर कहा कि अगर विजय बैंसला की कोई मांग है तो सरकार उसे पूरी तरह से सुनने को तैयार है।समाज और वर्ग को लेकर अगर कोई सुझाव है तो हम उस पर गंभीरता से विचार करेंगे।
सीएम गहलोत ने कहा कि लोकतंत्र में सभी को अपनी बात कहने का हक है,भाजपा शासन में इस तरह की बोलने की आजादी नहीं मिलती जितनी कांग्रेस शासन में मिलती है।

25 नवंबर को लेंगे रूट वाले जिलों का जायजा
इससे पहले प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि भारत जोडो यात्रा की तैयारियों को लेकर बुलाई गई समन्वय समितियों की बैठक में यात्रा की तैयारियों को लेकर व्यापक चर्चा हुई है।

25 नवंबर को सभी लोग यात्रा के रूट वाले जिलों में जाकर साफ सफाई और यात्रियों के ठहरने की व्यवस्था आदि तैयारियों का जायजा लेंगे।उन्होंने कहा कि आज की बैठक में कई अहम सुझाव सामने आए हैं, यात्रा के दौरान सभी व्यवस्थाओं के सुचारू संचालन के लिए पीसीसी मुख्यालय स्तर पर भी कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है।

बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव भंवर जितेंद्र सिंह, पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट, कैबिनेट मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास, रामलाल जाट, लालचंद कटारिया, टीकाराम जूली, ममता भूपेश, नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, अशोक चांदना, गिरिजा व्यास, जुबेर खान, हरीश चौधरी भी शामिल हुए।